समय का सच

हाजिर है पुरातन शैली का नक्काशीदार फर्नीचर

घरों में फर्नीचर की सजावट के लिहाज से जब से कथित 'नया जमानाÓ आया है, नक्काशीदार फर्नीचर बनने और मिलने बंद हो गए हैं। पुराने अमीर-उमराव या पारसियों के घरों में तो आपको ऐसे फर्नीचर मिल जाएंगे, परंतु नवधनाढ्य या उच्च मध्यमवर्गीय लोग जो रेडीमेड फर्नीचर लेते हैं, वे आधुनिक डिजाइन के होते हैं- सीधे-सीधे हत्थे और चपटी पीठ वाले। आंशिक परिवर्तन को छोड़ दें तो ज्यादातर एक जैसे ही दिखते हैं। पुरातन पद्धति के नक्काशी किए हुए फर्नीचर ढूंढे नहीं मिलते। अब अगर कोई बनवाना चाहे तो मुंबई में उनका कारीगर मिलना मुश्किल है। ज्यादातर लोग मशीनों से सीधी कटाई-छंटाई करते हैं ताकि कम समय में ज्यादा से ज्यादा फर्नीचर

Tags: 

Subscribe to RSS - समय का सच